•   Jul / 02 / 2015 Thu 03:48:21 PM

RBI जारी कर रहा है 1000 के नोट! सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा मैसेज, जानें सच्चाई

Mar 03 2020

RBI जारी कर रहा है 1000 के नोट! सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा मैसेज, जानें सच्चाई

नई दिल्ली: पिछले कई दिनों से सोशल मीडिया (Social Media) पर एक मैसेज (Message) वायरल (Viral) हो रहा है, इस मैसेज में एक 1000 के नोट को दिखाकर इस बात का दावा किया जा रहा है कि भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank Of India) एक हजार का नया नोट जारी करने वाली है. इस वायरल मैसेज में जारी संदेश का जब पीआईबी ने फैक्ट चेक किया तो पता चला कि यह मैसेज पूरी तरह से फेक है. रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने ऐसी कोई अधिसूचना नहीं जारी की है.

जब पीआईबी ने इस खबर की पड़ताल की तो पता चला कि यह खबर पूरी तरह से गलत और बेबुनियाद है. आरबीआई ने ऐसे किसी नोट के जारी करने का कोई ऐलान नही किया है.

मोदी सरकार ने बंद किए थे एक हजार के नोट
आपको बता दें कि अब से 4 साल पहले साल 2016 में 8 नवंबर की शाम को पीएम नरेंद्र मोदी ने देश में नोटबंदी का ऐलान किया था इसके तहत पीएम मोदी ने उस दिन की रात 12 बजे के बाद से 1000 और 500 के नोटों का टेंडर कैंसिल कर दिया था. पीएम मोदी ने देश की जनता को ये नोट बदलने का समय भी दिया था. पीएम नरेंद्र मोदी ने यह फैसला लोगों का काला धन निकालने और देश से जाली करेंसी को बाहर निकालने के लिए लिया था. उसके बाद 500 के नए नोट जारी किए गए जबकि 1000 के नोट बंद कर दिए गए. उसकी जगह 2000 के नए नोट जारी किए गए.

1 मार्च से एटीएम पर 2000 के नोट मिलनें बंद हो गए!
वहीं इसके पहले 1 मार्च से सरकार ने एटीएम में 2000 के नोटों पर पाबंदी लगा दी है. अब आप एटीएम से अगर दो हजार के नोट निकालने को सोच रहे हैं तो आपको परेशानी का सामना करना पड़ेगा. इंडियन बैंक ने इसकी शुरूआत भी कर दी है. 1 मार्च से इंडियन बैंक ने अपने सभी ATM में 2,000 रुपये नोट रखने वाले कैसेट्स को डिसएबल कर दिया है. अब अगर ग्राहकों को दो हजार के नोट लेने हैं तो उन्हें बैंक जाना होगा. अन्य बैंक भी जल्द इस व्यवस्था को लागू करने वाले हैं.

आरबीआई ने बंद की छपाई
रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया 2000 के नोट की छपाई बंद कर चुका है. इसके बाद अब इसे एटीएम में भी बंद करने की कवायद शुरू हो गई है. अगर किसी ग्राहक को 2000 रुपये का नोट चाहिए होगा, तो वह सिर्फ बैंक शाखाओं में मिलेगा. दो हजार के नोट को एटीएम में बंद कर 500, 200 और 100 रुपये के करेंसी नोटों की संख्या को बढ़ाया जाएगा.

एसबीआई और इंडियन बैंक ने की शुरुआत
एक मार्च से इंडियन बैंक अपने सभी एटीएम में 2000 के नोट वाले कैसेट्स को डिसेबल कर चुका है. वहीं देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआई ने उत्तर प्रदेश के कानपुर मंडल के उन्नाव जिले से इसकी शुरुआत कर दी है. उन्नाव के स्टेट बैंक के चीफ मैनेजर सुनील कुमार ने बताया कि करीब एक साल से 2000 के नोट एसबीआई के एटीएम में नहीं डाले जा रहे हैं. अब एटीएम मशीनों में लगे 2000 के नोट रखने वाले कैसेट (बॉक्स) को फिलहाल हटाया जा रहा है ताकि अन्य नोट रखे जा सकें. एसबीआई समेत कई सरकारी व निजी बैंकों ने इसकी शुरुआत कर दी है.

बंद नहीं होगा प्रचलन
हालांकि अभी एटीएम से 2000 के नोट निकलने बंद को गए हैं लेकिन इनका प्रचलन बंद नहीं होगा. फिलहाल आरबीआई की ओर से ऐसा कोई आदेश नहीं आया है. सरकार ने भी इस संबंध में कोई आदेश नहीं दिया है. फिलहाल छोटे शहरों में मौजूद एटीएम में पैसा डालने वाली कंपनियों को भी एटीएम से 2000 रुपये के नोट की कैसेट निकालने के लिए कहा गया है.