•   Jul / 02 / 2015 Thu 03:48:21 PM

चिन्मयानंद प्रकरण : ढाई घंटे में एसआईटी ने चप्पा-चप्पा छाना

Sep 07 2019

चिन्मयानंद प्रकरण : ढाई घंटे में एसआईटी ने चप्पा-चप्पा छाना

इंडिया इमोशंस न्यूज शाहजहांपुर. पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री व भाजपा नेता स्वामी चिन्मयान्नद व एलएलएम छात्रा के प्रकरण की जांच कर रही एसआईटी ने शनिवार को एसएस कॉलेज का दौरा किया। टीम ने कॉलेज के प्राचार्य से बात की और हॉस्टल के उस कमरे को भी देखा जहां छात्रा रहती थी। करीब दो घंटे तक कॉलेज के निरिक्षण के बाद एसआईटी टीम छात्रा के घर पहुंची। घर को भी बारीकी से खंगाला गया। हालांकि छात्रा और उसका परिवार अभी दिल्ली में है। संभावना जताई जा रही है कि चिन्मयानंद से भी एसआईटी जल्द पूछताछ कर सकती है।

सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर बनी एसआईटी
स्वामी चिन्मयानंद पर शोषण के आरोपों के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने उत्तर प्रदेश सरकार को एसआईटी बनाने के निर्देश दिए थे। जांच की निगरानी इलाहाबाद हाईकोर्ट करेगा। शाहजहांपुर के एसएस लॉ कॉलेज की छात्रा ने चिन्मयानंद पर शोषण के आरोप लगाए थे। यह कॉलेज चिन्मयानंद का है। वह 23 अगस्त को हॉस्टल से लापता हो गई थी और इसके बाद 30 अगस्त को राजस्थान में एक युवक के साथ मिली थी। छात्रा के पिता ने स्वामी चिन्मयानंद पर अपहरण और जान से मारने की धमकी देने का केस दर्ज कराया था।

छात्रा ने सुप्रीम कोर्ट से कहा था- घर वापस नहीं जाना चाहती
सुप्रीम कोर्ट ने मामले पर सुनवाई करते हुए वकील से छात्रा की लोकेशन के बारे में जानकारी मांगी थी। इसके बाद योगी सरकार को लड़की को पेश करने का निर्देश दिया था। 30 अगस्त को छात्रा के मिलने के बाद उसे अदालत में पेश किया गया। यहां पर एक न्यायाधीश ने उससे बातचीत की थी। इस दौरान छात्रा ने कहा था कि वह घर वापस जाना नहीं चाहती है और उसके परिजनों को भी दिल्ली बुला लिया जाए। इस पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि छात्रा को सुरक्षा मुहैया कराई जाए। छात्रा 12 सितंबर तक दिल्ली में रहेगी।

वीडियो जारी कर छात्रा ने आरोप लगाए थे
छात्रा ने एक वीडियो जारी कर चिन्मयानंद पर आरोप लगाए थे। वीडियो में उसने कहा था- मैं एसएस लॉ कॉलेज में पढ़ती हूं। एक बहुत बड़ा नेता बहुत लड़कियों की जिंदगी बर्बाद कर चुका है। मुझे और मेरे परिवार को भी जान से मारने की धमकी देता है। मैं इस टाइम कैसे रह रही हूं, मुझे ही पता है। मोदी जी प्लीज... योगी जी प्लीज मेरी हेल्प करिए आप। वह संन्यासी, पुलिस और डीएम सबको अपनी जेब में रखता है। धमकी देता है कि कोई मेरा कुछ नहीं कर सकता। मेरे पास उसके खिलाफ सारे सबूत हैं। आपसे अनुरोध है कि मुझे इंसाफ दिलाएं।