उप्र में पहले चरण की आठ लोकसभा सीटों पर कड़ी सुरक्षा के बीच शुरु हुआ मतदान

विस्तृत समाचार

नवरात्रि करने के क्या है कारण, जानिए-राशियों में क्या पडेगा असर

Posted on : Apr 04 2019


नवरात्रि करने के क्या है कारण, जानिए-राशियों में क्या पडेगा असर

इंडिया इमोशन्स न्यूज़ चैत्र के नवरात्र इस बार 6 अप्रैल से शुरू हो रहे हैं। इन नौ दिनों में पूरे विधि-विधान से मां शक्ति के नौ रूपों मां शैलपुत्री, ब्रह्मचारिणी, चन्द्रघंटा, कुष्माण्डा, स्कंदमाता, कात्यायनी, कालरात्रि, महागौरी और मां सिद्धिदात्री की पूजा होती है। 6 अप्रैल से शुरू हो रहे चैत्र नवरात्रि 14 अप्रैल को राम नवमी के त्योहार के साथ संपन्न होंगे।

हिंदू नववर्ष का प्रारंभ...
चैत्र नवरात्र से हिंदू नववर्ष का प्रारंभ माना जाता है और पंचांग की गणना की जाती है। पुराणों के अनुसार चैत्र नवरात्रि से पहले मां दुर्गा अवतरित हुई थीं। ब्रह्म पुराण के अनुसार, देवी ने ब्रह्माजी को सृष्टि निर्माण करने के लिए कहा। चैत्र नवरात्र के तीसरे दिन भगवान विष्णु ने मत्स्य रूप में अवतार लिया था। श्रीराम का जन्म भी चैत्र नवरात्र में ही हुआ था।

ज्योतषि की दृष्टि से भी है अहम...
ज्योतषि की दृष्टि से भी चैत्र नवरात्र का वशिेष महत्व है क्योंकि इसके दौरान सूर्य का राशि में परिवर्तन होता है। कहा जाता है कि नवरात्र में देवी और नवग्रहों की पूजा से पूरे साल ग्रहों की स्थिति अनुकूल रहती है। पंडितों का मानना है कि चैत्र नवरात्र के दिनों में मां स्वयं धरती पर आती हैं, इसलएि मां की पूजा से इच्छति फल की प्राप्ति होती है।

घट स्थापना करने का विशेष मुहूर्त...
इन नौ दिनों मां नौ रुपों की पूजा की जाती है। शुभ मुहूर्त में कलश स्थापना अच्छा रहता है। यूं तो साल में दो बार नवरात्र आते हैं लेकिन दोनों ही नवरात्र का महत्व और पूजा विधि अलग है। इस बार कहा जा रहा है कि पांच सर्वार्थ सिद्धि, दो रवि योग और रवि पुष्य योग का संयोग बन रहा है।

इस बार यह भी कहा जा रहा है कि इस बार नवमी भी दो दिन मनेगी। इस साल 6 अप्रैल शनिवार से नवरात्र शुरू हो रहे हैं। शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि के दिन अभिजीत मुहूर्त में 6 बजकर 9 मिनट से लेकर 10 बजकर 19 मिनट के बीच घट स्थापना करना बेहद शुभ होगा।



अन्य प्रमुख खबरे

हनुमान जयंती 2019: ऐसे पूजा करने से दूर होगे संकट, राशिनुसार लगाएं भोग

इंडिया इमोशन्स न्यूज़ हनुमान जयंती के दिन सुबह जल्दी उठकर सभी नित्य कर्मों से निवृत्त होने के बाद हनुमान जी की पूजा-अर्चना

Navratri 2019 : जानें कब लगेगी अष्टमी और नवमी तिथि

इंडिया इमोशन्स न्यूज़ चैत्र शुक्लपक्ष की अष्टमी तिथि को नवरात्रि अष्टमी तिथि मनाई जाती है

Mahashivratri 2019: सत्य और शक्ति का दिन है महाशिवरात्रि, पढ़ें शिवजी का यह ध्यान मंत्र

इंडिया इमोशन्स न्यूज़ ‘शिव महिम्न: स्तोत्र' में प्रश्न है, ‘आप कैसे दिखते हैं शिव? हम आपका स्वरूप नहीं जानते

महाशिवरात्रि : बिल्व पत्र चढ़ाने से भगवान शिव होते हैं प्रसन्न, जानें इसके बारे में ये खास बातें

इंडिया इमोशन्स न्यूज़ भगवान शंकर जल्द प्रसन्न होने वाले देवता हैं। थोड़ी सी पूजा का बहुत-बड़ा फल प्रदान करते हैं

पूजा में चढाया हुआ नारियल यदि खराब निकल जाता हैं तो समझिए...

इंडिया इमोशन्स न्यूज़ नारियल को हर शुभ काम करने के लिए शुभ मानते हैं। उससे सारे काम शुभ तरीके से हो जाते हैं

आप भी करते है व्रत, जानिए क्या है इसके फायदें

इंडिया इमोशन्स न्यूज़ हिन्दू धर्म में व्रत करने की ज्यादा मान्यता देखने को मिलती है

इन पत्तों से करें गणेशजी की पूजा, सफल होंगे हर अधूरे काम...

इंडिया इमोशन्स न्यूज़ हिन्दू धर्म शास्त्रों के अनुसार, किसी भी शुभ काम के करने से पहले गणेश पूजन आवश्यक हैं

तो इसलिए महिलाएं छलनी से देखती हैं पति का चेहरा

इंडिया इमोशन्स न्यूज़ करवा चौथ का त्योहार पति-पत्नी के मजबूत रिश्ते, प्यार और विश्वास का प्रतीक है

शंख को इस जगह रखने से होता है लाभ, जानिए शंख के फायदे

इंडिया इमोशन्स न्यूज़ हिंदू धर्म में शंख का बहुत महत्व होता है

जानें, कब से शुरू होंगे नवरात्र

इंडिया इमोशन्स न्यूज़ नवरात्र के नौ दिन मां दुर्गा के नव रूपों की पूजा होती है

लखनऊ समाचार

सेहत समाचार

बिज़नेस समाचार

धर्म संसार समाचार