•   Jul / 02 / 2015 Thu 03:48:21 PM

पाकिस्तान को हिना रब्बानी खार की सलाह, कहा- कटोरा लेकर भीख मांगने से बेहतर भारत से दोस्ती कर ले

Aug 27 2019

पाकिस्तान को हिना रब्बानी खार की सलाह, कहा- कटोरा लेकर भीख मांगने से बेहतर भारत से दोस्ती कर ले
हिना रब्बानी खार

इंडिया इमोशंस न्यूज नई दिल्‍ली: पाकिस्तान की पूर्व विदेश मंत्री हिना रब्बानी खार (Ex Foreign Minister of Pakistan Hina Rabbani Khar) ने पाकिस्तान की मौजूदा हालात देखते हुए पाकिस्तानी पीएम इमरान खान (Pak PM Imran Khan) को भारत से दोस्ती कर लेने की सलाह दे दी है. हिना रब्बानी खान ने पाकिस्तान को भारत के साथ मजबूत रिश्तों की वकालत की है. भारत सरकार द्वारा कश्मीर में ऑर्टिकल 370 पर की गई कार्रवाई के बाद पाकिस्तान द्वारा दुनिया भर में घूम-घूम के मदद मांगे जाने पर पूर्व विदेशमंत्री हिना रब्बानी खार ने कहा कि पाकिस्तान को दुनिया भर में कटोरा लेकर भीख मांगने से बेहतर है कि वो भारत से दोस्ती कर ले. यह पहला मौका नहीं है जब हिना ने भारत पाक रिश्तों पर इस तरह की बात की हो. इसके पहले हिना ने कहा था कि पाकिस्‍तान युद्ध लड़कर कभी कश्‍मीर को हासिल नहीं कर सकता है. खार ने आगे कहा कि उनके मुल्क को आर्थिक, राजनीतिक या सैन्य रूप से अमेरिका पर आश्रित देश रहने के बजाय भारत और अन्य पड़ोसी देशों के साथ बेहतर संबंध बनाने चाहिए.

पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (PPP) की नेता ने कहा कि पाकिस्तान को अमेरिका (US) की चाटुकारिता करने की बजाए भारत और अपने अन्य पड़ोसी देशों के साथ रिश्ते मजबूत करने चाहिए. आपको बता दें कि पूर्व विदेश मंत्री अमेरिका और पाकिस्तान के रिश्तों पर आयोजित एक सेमीनार में बोल रही थीं. हिना रब्बानी खार ने आगे कहा कि ‘पाकिस्तान को हमेशा खुद को सामरिक साझीदार के रूप में देखना चाहिए. हमें अमेरिका की जगह भारत, अफगानिस्तान, ईरान और चीन जैसे पड़ोसी देशों के साथ महत्वपूर्ण संबंध विकसित करने चाहिए.

हिना रब्बानी खार ने माना कि पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था अमेरिका की मदद पर निर्भर रहती है इसका मतलब पाकिस्तान को उसके रहमो-करम पर ही नहीं रहना चाहिए बल्कि अपने लिए नये रास्ते भी निकालने चाहिए. खार ने आगे कहा कि दोनों हाथों में भीख मांगने का कटोरा लेकर पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सम्मान कभी नहीं पा सकता. आपको बता दें कि पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के कार्यकाल के दौरान ही अलकायदा प्रमुख ओसामा बिन लादेन पाकिस्तान के ऐबटाबाद में मई 2011 में एक अमेरिकी सैन्य अभियान में मारा गया था. हिना ने कहा कि पाकिस्तान को अमेरिका से ज्यादा उम्मीदें नहीं रखनी चाहिए. उन्होंने यह भी कहा कि पाकिस्तान को अवश्य ही अफगान युद्ध से बाहर निकल जाना चाहिए. पिछले 17 सालों से जारी इस युद्ध में पाकिस्तान को ही सबसे ज्यादा नुकसान उठाना पड़ा है.