मोदी सरकार के मुख्य आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रमण्यन ने पद से दिया इस्तीफा

विस्तृत समाचार

ऐसे स्त्री, पुरूष में कामवासना का आवेग ज्यादा होगा

Posted on : Jan 06 2017


ऐसे स्त्री, पुरूष में कामवासना का आवेग ज्यादा होगा

-यदि शुक्र के साथ लग्नेश, चतुर्थेश, नवमेश, दशमेश अथवा पंचमेश की युति हो तो दांपत्य सुख यानि यौन सुख में वॄद्धि होती है वहीं षष्ठेश, अष्टमेश उआ द्वादशेश के साथ संबंध होने पर दांपत्य सुख में न्यूनता आती है.

-यदि सप्तम अधिपति पर शुभ ग्रहों की दॄष्टि हो, सप्तमाधिपति से केंद्र में शुक्र संबंध बना रहा हो, चंद्र एवम शुक्र पर शुभ ग्रहों का प्रभाव हो तो दांपत्य जीवन अत्यंत सुखी और प्रेम पूर्ण होता है.

-लग्नेश सप्तम भाव में विराजित हो और उस पर चतुर्थेश की शुभ दॄष्टि हो, एवम अन्य शुभ ग्रह भी सप्तम भाव में हों तो ऐसे जातक को अत्यंत सुंदर सुशील और गुणवान पत्नि मिलती है जिसके साथ उसका आजीवन सुंदर और सुखद दांपत्य जीवन व्यतीत होता है. (यह योग कन्या लग्न में घटित नही होगा)

-सप्तमेश की केंद्र त्रिकोण में या एकादश भाव में स्थित हो तो ऐसे जोडों में परस्पर अत्यंत स्नेह रहता है. सप्तमेश एवम शुक्र दोनों उच्च राशि में, स्वराशि में हों और उन पर पाप प्रभाव ना हो तो दांपत्य जीवन अत्यंत सुखद होता है|

-सप्तमेश बलवान होकर लग्नस्थ या सप्तमस्थ हो एवम शुक्र और चतुर्थेश भी साथ हों तो पति पत्नि अत्यंत प्रेम पूर्ण जीवन व्यतीत करते हैं.
-पुरूष की कुंडली में स्त्री सुख का कारक शुक्र होता है उसी तरह स्त्री की कुंडली में पति सुख का कारक ग्रह वॄहस्पति होता है. स्त्री की कुंडली में बलवान सप्तमेश होकर वॄहस्पति सप्तम भाव को देख रहा हो तो ऐसी स्त्री को अत्यंत उत्तम पति सुख प्राप्त होता है|

-जिस स्त्री के द्वितीय, सप्तम, द्वादश भावों के अधिपति केंद्र या त्रिकोण में होकर वॄहस्पति से देखे जाते हों, सप्तमेश से द्वितीय, षष्ठ और एकादश स्थानों में सौम्य ग्रह बैठे हों, ऐसी स्त्री अत्यंत सुखी और पुत्रवान होकर सुखोपभोग करने वाली होती है.पुरूष का सप्तमेश जिस राशि में बैठा हो वही राशि स्त्री की हो तो पति पत्नि में बहुत गहरा प्रेम रहता है| वर कन्या का एक ही गण हो तथा वर्ग मैत्री भी हो तो उनमें असीम प्रम होता है. दोनों की एक ही राशि हो या राशि स्वामियों में मित्रता हो तो भी जीवन में प्रेम बना रहता है|
-अगर वर या कन्या के सप्तम भाव में मंगल और शुक्र बैठे हों उनमे कामवासना का आवेग ज्यादा होगा अत: ऐसे वर कन्या के लिये ऐसे ही ग्रह स्थिति वाले जीवन साथी का चुनाव करना चाहिये.

 



अन्य प्रमुख खबरे

जानें, बर्तन कैसे बनाते और बिगाड़ते हैं आपके काम

इंडिया इमोशन्स न्यूज वास्‍तु और धार्मिक ग्रंथ बहुत कम चीजों पर एकमत होते हैं लेकिन बर्तनों के बारे में दोनों ने कहा है कि अगर

इन बातों का रखेंगे ध्यान तो मजबूत होगा पति-पत्नी का रिश्ता

इंडिया इमोशन्स न्यूज वास्तु विज्ञान में बताया गया है कि हर व्यक्ति को चाहे उसकी शादी के कई साल बीत गए हों या नई-नई शादी हुई हो

आपके उंगलियों के नाखूनों में बना है आधा चांद, जानिए क्या है रहस्य

इंडिया इमोशन्स न्यूज इंसानों के हाथों में बहुत से राज छुपे होते है

घर के किचन में नहीं होनी चाहिए ये चीजें, हो सकते हैं ये नुकसान

इंडिया इमोशन्स न्यूज घर में किचन का अहम हिस्सा होता है

अंगों से जानिए, पति के लिए भाग्यशाली होती कैसी महिलाएं

इंडिया इमोशन्स न्यूज हर महिला को घर की लक्ष्मी कहा जाता है

लक्ष्मीजी की कृपा पानी है तो इन बातों से बचना जरूरी

इंडिया इमोशन्स न्यूज हर व्‍यक्ति के जीवन में शांति और सम्पन्नता का होना जरूरी है और सम्पन्नता के लिए लक्ष्मी का प्रसन्न

सूर्यास्त के बाद बालों में ना करें कंघी, हो सकता है ऐसा

इंडिया इमोशन्स न्यूज अक्सर कई बार घर के बड़े बुर्जुगों को लड़कियों को कहते सुना होगा कि सूरज ढलने के बाद बालों पर कंघी न करें

हाथों में है ऐसी रेखा तो जीवन में मिलते हैं सारे सुख

इंडिया इमोशन्स न्यूज ज्योतिष शास्त्र में हस्त रेखा का बहुत बड़ा महत्व है

घर में ना लगाएं ये पौधे, परिवार में आ सकता हैं संकट

इंडिया इमोशन्स न्यूज अक्सर लोग अपने घरों में अलग अलग किस्म के पौधे लगाते हैं

हथेली पर यहां क्रॉस का निशान, होते है चिंताओं के संकेत

इंडिया इमोशन्स न्यूज हर मनुष्य की हथेली में अलग-अलग चिन्ह होते हैं और उनका फल भी अलग-अलग होता है

लखनऊ समाचार

सेहत समाचार

बिज़नेस समाचार

धर्म संसार समाचार