1984 सिख विरोधी दंगों के दोषी यशपाल को फांसी, नरेश को उम्रकैद | दिल्ली सचिवालय में CM केजरीवाल पर मिर्ची पाउडर से हमला | सुषमा स्वराज का ऐलान- नहीं लड़ेंगी अगला लोकसभा चुनाव

विस्तृत समाचार

केजीएमयू से रिटायर्ड स्टाफ नर्स हत्याकांड मामले में पुलिस के हाथ अब तक कोई सुराग नहीं

Posted on : Mar 11 2018


केजीएमयू से रिटायर्ड स्टाफ नर्स हत्याकांड मामले में पुलिस के हाथ अब तक कोई सुराग नहीं

इंडिया इमोशन्स न्यूज़ सरोजनीनगर। केजीएमयू से रिटायर्ड स्टाफ नर्स हत्याकांड मामले के साढ़े तीन माह बीत चुके हैं, लेकिन पुलिस घटना का खुलासा करना तो दूर बल्कि अबतक हत्यारो का सुराग तक नही लगा सकी है। हालाकि पुलिस के शक की सूई मृतका के करीबियो पर ही टिकी हुई है और उसका कहना है कि लूसी की हत्या प्रापर्टी को लेकर की गई थी। जल्द ही घटना का खुलासा कर दिया जाएगा। बता दे कि आये
दिन कोई न कोई गुडवर्क करके अपनी पीठ थपथपाने वाली सरोजनीनगर पुलिस घटना के बाद कुछ दिनो तक तो इसको लेकर काफी तेजी से जुटी रही।

 

उस दौरान पुलिस ने मृतका के करीबियो के अलावा तमाम मजदूरो को हिरासत में लेकर कई बार पूछताछ किया। यही नही उसने मृतका के पड़ोसियो से पूछताछ करने के अलावा मोहल्ले के घरो में लगे सीसीटीवी कैमरो की फुटेज भी खगाली, मगर इसके बावजूद भी पुलिस को हत्यारो का कोई क्लू नही मिल सका। इतना ही नही पुलिस ने घटना को लेकर मृतका लूसी को उसके पति स्व0 सोबरन सिंह की दूसरी पत्नी तक बता डाला, लेकिन सोबरन की पहली पत्नी के बारे में पुलिस लम्बा समय बीतने के बाद भी अबतक कुछ नही पता लगा सकी है। पुलिस को अभी भी सन्देह है कि लूसी की हत्या प्रापर्टी को लेकर की गई है। जबकि मृतका का बेटा अभिषेक लगातार लूट के दौरान हत्या किया जाना बताता आ रहा है।

 

यही नही अभिषेक अपने पिता सोबरन के कोई दूसरी पत्नी होने से भी इनकार कर चुका है। फिलहाल पुलिस का कहना है कि टीमें लगी हुई है और हत्यारो का बराबर पता लगाया जा रहा है और जल्द ही घटना का खुलासा कर दिया जाएगा। बताते चलें कि राजधानी के केजीएमयू से रिटायर्ड स्टाफ नर्स व सरोजनीनगर के त्रिमूर्तिनगर स्थित अपने घर में अकेले रहने वाली लूसी सिंह (65) की बीती 25 नवंबर 2017 की शाम करीब 4 बजे चाकू से गले पर वार करने के बाद ईटो से सिर कूचकर हत्या कर दी गई थी।

 


पुलिस सूत्रो की माने तो लूसी की हत्या उसके करीबियों ने ही किसी बात को लेकर की है और हत्यारा किसी दूसरे मामले में जेल में बन्द है। जिसकी वजह से पुलिस घटना का खुलासा नही कर पा रही है। बल्कि पुलिस अब उसके जेल से छूटने का इंतजार कर रही है। सूत्रो ने बताया कि हत्यारा जल्द ही जेल से छूटने वाला है और उसके जेल से निकलते ही पुलिस उसे गिरफ्तार कर घटना का खुलासा कर सकती है।



अन्य प्रमुख खबरे

उरई में दरोगा ने जीआरपी बैरक में खुद को गोली से उड़ाया, हालत गंभीर

इंडिया इमोशन्स न्यूज़ जीआरपी के दरोगा ने सोमवार को देर रात बैरक में सर्विस पिस्टल से खुद को गोली मार ली

हमारे पास फौजी जीतू को हत्यारोपी साबित करने के सबूत नहीं : एसटीएफ

इंडिया इमोशन्स न्यूज़ एसटीएफ के एसएसपी अभिषेक सिंह ने स्वीकारा है कि फौजी जीतू (Fauji Jeetu) को हत्यारोपी साबित करने के लिए हमारे पास

भाजपा नेता प्रत्यूष हत्याकांड में नया मोढ़,खुद करवाये थे हमला

इंडिया इमोशन्स न्यूज़ लखनऊ।भाजपा नेता प्रत्यूष हत्याकांड में सोमवार को एक नया आया नया मोड़ आया है

महागठबंधन की बैठक में मायावती और अखिलेश ने किया किनारा

इंडिया इमोशन्स न्यूज़ लखनऊ। भाजपा के खिलाफ एकजुट होने के प्रयास में लगे विपक्ष को झटका लगने वाला दिख रहा है

लखनऊ समाचार

सेहत समाचार

बिज़नेस समाचार

धर्म संसार समाचार