•   Jul / 02 / 2015 Thu 03:48:21 PM

कोरोना... अब भी न समझे तो जिंदगी न मिलेगी दोबारा !

Mar 23 2020

कोरोना... अब भी न समझे तो जिंदगी न मिलेगी दोबारा !

किसी ने किया शंखनाद तो किसी ने बजायी थाल,
कोरोना के खिलाफ, देशवासियों ने बना ली है ढाल।

एक नयी आजादी की जंग लडऩे को देश है तैयार,
कोविड-19 से मुक्त होने तक, नहीं मानेंगे हम हार।।

सोशल डिस्टेंसिंग की भाई कुछ दिन डाल लो आदत,
बस इसी रास्ते पर चल कर हम सभी को मिलेगी राहत।

मानव जाति को बचाने की खातिर अब खानी होगी कस्म,
एक-दूजे की जान के लिए हम वायरस को करेंगे भस्म।।

खुद को समझने का अच्छा मौका दिया है हालात ने,
अब कोई न ही समझना चाहे तो मिल जाएगा खाक में।

घर पर रहने की फुर्सत न जाने कब मिलेगी दोबारा,
बेवजह घर से निकले तो जिंदगी न मिलेगी दोबारा।।

-अजय दयाल