•   Jul / 02 / 2015 Thu 03:48:21 PM

सावन का पहला सोमवार आज, शिव की आराधना के लिए सर्वोत्तम दिन

Jul 22 2019

सावन का पहला सोमवार आज, शिव की आराधना के लिए सर्वोत्तम दिन
भोलेनाथ की पूजा और आराधना करने से जीवन में सुख-शांति

india emotions. सावन में पूरा श्रावण मास जप, तप और ध्यान के लिए उत्तम होता है, लेकिन इसमें सोमवार का विशेष महत्व है.भगवान शिव की पूजा और व्रत का विशेष महत्व है। सावन के पहले सोमवार से ही कई लोग व्रत की शुरुआत करते हैं। भोलेनाथ की पूजा और आराधना करने से वैवाहिक जीवन में सुख और शांति आती है। यह महीना शिव की आराधना के लिए सर्वोत्तम माना गया है।

पूरा श्रावण मास जप,तप और ध्यान के लिए उत्तम होता है, लेकिन इसमें सोमवार का विशेष महत्व है. सोमवार का दिन चन्द्र ग्रह का दिन होता है और चन्द्रमा के नियंत्रक भगवान शिव हैं. अतः इसदिन पूजा करने से न केवल चन्द्रमा बल्कि भगवान शिव की कृपा भी मिल जाती है. कोई भी व्यक्ति जिसको स्वास्थ्य की समस्या हो, विवाह की मुश्किल हो या दरिद्रता छाई हो.

सावन में शिवलिंग की पूजा को महत्वपूर्ण बताया गया है। शिवलिंग पर जल चढ़ाने के साथ-साथ बेल पत्र भी चढ़ाया जाता है। इस साल सावन का पहला सोमवार 22 जुलाई को है। इस दिन भगवान शिव की विधि पूर्वक पूजा की जाएगी। लेकिन भोले की पूजा के दौरान कई चीजों का ध्यान रखना चाहिए। ---------------------------------------

जीवन में मुश्किलों के उपाय से बचने के लिए -

108 बेल पत्र लें
हर बेलपत्र पर चन्दन से "राम" लिखें
इसके बाद बेलपत्रों को शिव लिंग पर अर्पित करें
भगवान शिव का नाम लें
----------------------------------------------
सुख की प्राप्ति के लिए -

शिव लिंग पर घी चढ़ाएं
शिव लिंग पर जल चढ़ाएं
भगवान शिव का ध्यान करें
संतान प्राप्ति की प्रार्थना करें

अगर सावन के हर सोमवार को विधि पूर्वक भगवान शिव की आराधना करता है तो तमाम समस्याओं से मुक्ति पा जाता है. सोमवार और शिव जी के सम्बन्ध के कारण ही मां पार्वती ने सोलह सोमवार का उपवास रखा था. सावन का सोमवार विवाह और संतान की समस्याओं के लिए अचूक माना जाता है.